QLED vs OLED vs LED vs LCD TV: Which one is the best, differences

कौन सा टीवी लेना चाहिए QLED vs OLED vs LED vs LCD TV हिंदी में

QLED vs OLED vs LED vs LCD TV: Which one is the best, differences यहां पर आपको मिलेगी अगर आप LED TV  लेने जा रहे हैं मार्केट या ऑनलाइन लेते हैं तो आपको बहुत ऐसी बातें हैं जिनको ध्यान में रखनी चाहिए अगर आप ध्यान में नहीं रखेंगे तो आप बहुत ऐसी गलती कर बैठेंगे जो कि आपको नहीं करना चाहिए और आगे आपको पछताना पड़ेगा।

कभी भी हम टीवी लेने जाते हैं तो हमारे मन में एक ख्याल आता है हमें एक कंफ्यूजन हो जाती है कि हम क्या करें कौन सा टीवी ले कितने वाली ने क्या-क्या उसमें सिस्टम होनी चाहिए आगे चलकर कुछ प्रॉब्लम ना हो यही सब हमें टेंशन रहती बनी रहती है कि क्या करें पैसा भी कम लगे और टीवी भी अच्छा मिल जाए यही सब जानकारियां हमें बहुत जरूरी होती है जो नहीं रहती हमारे पास और ऑनलाइन हम देखते हैं बहुत कुछ लिखा रहता है पर हमें समझ में नहीं आता है।

दुकान पर भी जाते हैं तो कुछ भी पकड़ा देता है और पैसा ज्यादा ले लेता है तो हमें किन बातों का ध्यान रखना चाहिए और किन बातों का ध्यान नहीं रखना चाहिए और क्या हमें देखना चाहिए हमारा रूम है रूम में टीवी रखने वाले हैं उसके हिसाब से डिसाइड होती है।

अगर आपके 30,000 के अंदर-अंदर LED TV आपको लेना है घर के लिए अपने लिए और आप सोचते हो कि ज्यादा टाइम तक चले और हमारा कुछ प्रॉब्लम ना आए टीवी में साउंड भी बढ़िया रहे डिस्प्ले भी बढ़िया रहे साइट से जो देखते हैं। LED TV में क्या सबसे बड़ी ध्यान देना चाहिए कि व्यू एंगल जो साइट से आप टीवी को देखकर LED TV को साइट्स देखते हो और सामने से देखते हो दोनों सेम पिक्चर दिखनी चाहिए यह नहीं कि साइड से देखो कुछ और सामने से देखो कुछ और देखें ऊपर से देखो तो कुछ और देखें नीचे से देखो तो कुछ और दिखे ऐसा नहीं होना चाहिए।

आपका जो है डिस्प्ले परफेक्ट होनी चाहिए टीवी का सबसे बड़ा अगर किसी में पैसा लगता है एलईडी टीवी में तो डिस्प्ले में लगता है डिस्प्ले पर आपको काफी ध्यान देना होगा अगर आप का फुल एचडी है तो काफी अच्छा है इसमें पैसा भी लगता है एचडी टीवी लेते हो तो आपको सस्ते में आ जाता है तो मैं आपको बताऊंगा कि लेना चाहिए।

अगर आप एलईडी टीवी लेने जा रहे हो या सोच रहे हो तो आपको ऐसी बहुत सी जानकारियां जिसको आप को ध्यान में रखना होगा ठीक है तो सबसे पहले क्या ध्यान में रखना है

 

1 . सबसे पहले तो आपको यह डिसाइड करना हुआ कि आपका रूम का साइज कितना बड़ा है या छोटा है या कैसा है ठीक है अगर आपका रूम की साइज बड़ी है तो आपको एलईडी टीवी बड़ी लेनी पड़ेगी प्लस आप टीवी से कितनी दूरी पर बैठकर टीवी देखोगे राइट अगर आपकी  LED TV दीवाल पर लगी है वहां से कितना दूरी पर बैठकर देखोगे कितना नजदीक बैठकर देखोगे कितना बड़ा रूम है उसके हिसाब से आप साइज ले अगर आपका रूम छोटा है तो आप बड़ी टीवी ले लेंगे तो आपको प्रॉब्लम होगी उसके जो पिक्सेल होते हैं दिखते हैं।

इसके लिए छोटी टीवी लेगे अगर आपका छोटा रूम  है और अगर आप नजदीक से देखते हो तो डिस्प्ले अच्छी होनी चाहिए अब बात यह आती है कि डिस्प्ले कैसे चेक करें कि किसकी अच्छी है किसकी खराब है मैं आपको बता दूं कि अगर आप दुकान पर लेते हो तो टीवी के चालू करके आप देख सकते हो सामने से ना देखें टीवी के ऑफ साइड से जाकर देखें दोनों साइड से देखें ऊपर से देखें नीचे से देखें डिस्प्ले में देखिए जो डीटीएच कनेक्शन लगा है फुल एचडी है अभी तो एचडी आता है पर उसमें अगर फुल एचडी सपोर्ट करती हो तो अच्छा दिखेगा। अगर hd है तो उतना अच्छा नही दिखेगा।

2 . LED TV का रिफ्रेश रेट जो हैं  रिफ्रेश रेट कितने का है  वोल्टेज इनपुट कितना लेता है और कम से कम और ज्यादा से ज्यादा वोल्टेज कितने में चल सकता है यानी कि हंड्रेड वोल्ट से 240 वोल्ट वोल्ट के अंदर-अंदर नॉर्मल ईटीवी का वोल्टेज रहता है कितने वाट का है उसका जो साउंड कितने वाट का है कितना साउंड उस में लगा है।

 

3. कोन से tv लें LCD, LED, OLED and QLED TV हमारे मन में यह सवाल आता है बहुत अब यह जानकारी आप सुने होंगे की एलसीडी ले एलईडी ले  डिफरेंस क्या होता है।

LCD, LED, OLED and QLED TV चारों टाइप की एलईडी टीवी आपको मैं यहां पर दिखा रहा हूं यह चारों में बहुत ज्यादा फर्क होता है LCD, LED में उतना फर्क नहीं होता है बाकी सब टीवी OLED and QLED में होता है जैसे मे led ओर OLED इसमें ज्यादा फर्क होता है महंगी भी मिलती हैं तो क्या फर्क होना चाहिए और आपके बजट के हिसाब से कौन सा आपके लिए बेस्ट रहेगा यहां पर यही सब जानकारियां नीचे दी गई है।

 

LCD में क्या होता है  (liquid crystal display) BUY NOW

LCD tv का मतलब क्या होता है (liquid crystal display)

LCD का सबसे पहले मतलब हम जान लेते एलसीडी का मतलब क्या होता तो एलसीडी का मतलब होता है (liquid crystal display) LCD में क्या होता है डिस्प्ले के सामने तीन कलर का क्रिस्टल लगे होते हैं क्रिस्टल से तीन कलर प्रड्यूस होता है क्रिस्टल जो वो क्रिस्टल आपको दिखाई नहीं देंगे दिखाई देने के लिए क्या होता है डिस्प्ले के बैक साइड से CCFL लाइट दी जाती यानी की फोकस दिया जाता है

तो वह आपको आंखों के सामने कोई भी पिक्चर कोई भी तस्वीर दिखाई देती है कोई भी वीडियो कोई भी फोटो दिखाई देता है अगर पीछे से सीएफएल की लाइट दी जाती है तो डिस्प्ले आपको डिस्प्ले पर दिखाई देता है इसी को LCD कहते हैं।

CCFL जो बैक साइड से लाइट यूज किया जाता है उसमें क्या होता है एलसीडी टीवी में अब देखे होंगे साइड से ऊपर से देखेंगे तो आपको कलर परफेक्ट नहीं दिखाई देता है यानी कि सामने से जो कलर आपको दिखाई देगा अगर टीवी के साइड में चले जाएंगे तो आपको कलर दूसरा हो जाता है इसमें क्या होता है इसलिए ब्राइटनेस परफेक्ट सही नहीं कर पाता है अगर आपका हेयर ब्लैक शर्ट वाइट है तो पूरा नहीं कर पाता है उसको ब्लैक नहीं कर पाता ये कमी है।

अगर आप LCD TV लेने जा रहे हैं तो इसकी मोटाई जादा होती LED TV के मुकाबले तो अगर आप मोटा आपको मिलेगा अगर आप एलसीडी लेंगे क्योंकि इसमें पीछे से सीसीएफएल लगानया  होता है इसके लिए उसके लिए जगह ज्यादा चाहिए इसके लिए एमसीडी को ज्यादा मोटा बनाना पड़ता है

LED TV क्या है। (Light Emitting Diode) BUY NOW

LED TV क्या है। (Light Emitting Diode)

LED TV में क्या होता है कि ज्यादा कुछ फर्क नहीं होता है LCD TV के मुकाबले इसमें यह फर्क होता है इसमें क्या होता है डिस्प्ले के अंदर ही छोटी-छोटी एलईडी लाइट लगाई जाती है आप बहुत बारीकी से ध्यान से देखेंगे तो दिखेगा नहीं तो आप कैमरे के लेंस की मदद से उसको पूरा फुल जूम कर देंगे तब आपको छोटे-छोटे उसमें जो पिक्सेल जैसा देखेंगे स्क्रीन कि आप जैसे आम भाषा में बोलते हैं वैसे आपको दिखाई देगा हालांकि डिस्प्ले नहीं होता है उसमें एलईडी लगाई जाती है

LED TV  कम पावर में भी चल जाएगा यानी कि इसमें 90 से 100 वोल्टेज देंगे तो भी बिल्कुल आसानी से चल जाता है कोई प्रॉब्लम नहीं होता है। और काफी स्लिम बनाया जाता है LCD काफी ज्यादा मोटा हो जाता है पर अगर आप LED टीवी लेंगे तो काफी स्लीम आपको मिल जाएगा उतना भी सिम नहीं मिलेगा इसमें और सारी बहुत सारी टेक्नोलॉजी लगी रहती है तो एलसीडी के मुकाबले तो आपको मिल ही जाएगा और इसमें कम पावर में भी चल जाएगा आपका बिजली का बचत होगा यही है।

कि अगर आप सामने से देखेंगे या साइड से देखेंगे या ऊपर से देखेंगे या नीचे से देखेंगे टीवी को तो बिल्कुल सेम कलर आपको देखने को मिलेगा जैसे में एलसीडी में क्या होता है कि आप साइड से देखेंगे कुछ और कलर मिलेगा सामने से देखेंगे तो नेचुरल मिलता है ऊपर से देखेंगे तो कुछ और कलर मिल जाता है एलसीडी में प्रॉब्लम रहती है पर LED में ऐसा नहीं होता है आपको सेम टू सेम कलर आपको मिलते है।

 

OLED क्या होता है।  (Organic Light Emitting Diodes) BUY NOW

OLED क्या होता है।  (Organic Light Emitting Diodes)

 

अब जान लेते हैं OLED का क्या मतलब होता है OLED में क्या फर्क होता है की  LED और LCD  के मुकाबले महंगा है  तो मैं आपको बता दूं कि OLED का मतलब यह होता है कि इसमें अंदर जो  पिक्सेल छोटे छोटे लगे होते हैं डिस्प्ले में मैं आपको बताया पहले ही किसी डिस्प्ले को पूरा कैमरे की मदद से जूम करके देखेंगे तो उसमें छोटे-छोटे पिक्चर लगे होते हैं उस पिक्चर के छोटे-छोटे अंदर लाइट लगी रहती एलईडी लाइट लगी रहती है यानी कि हर एक पिक्सेल के लिए छोटे-छोटे पाठ लगे होते है सीधी सीधी बात करें तो अलग अलग पिक्सल का कलर आप अपने हिसाब से बदल सकते है अपने हिसाब से एडजस्ट कर सकते हो यानी ब्लैक को ब्लैक और वाइट को  वाइट कर सकते हो।

कलर कि हम बात करें तो LED और LCD के मुकाबले यह काफी आगे निकल जाता है OLED केअंदर छोटी-छोटी पिक्सल जो लाइटें लगी रहती है सब पिक्सेल के लिए अलग-अलग लाइट लगी रहती है वह सब एक जगह मिला कि आपको एक पिक्चर तैयार करके दिखाया जाता है वीडियो दिखाया जाता है इमेज दिखाई जाते हैं ताकि आपको आंखों को यह लगता है कि वीडियो चल रहा है पर ऐसा नहीं होता है उसके अंदर छोटे अलग अलग करके एक वीडियो एक इमेज तैयार होती है जो आपकी आंखों के सामने दिखती है।

OLED में क्या होता है कि LED डिस्प्ले में जो होता है बहुत सारे पैनल बहुत सारे ऐसे पाठ होते हैं जो अलग-अलग होते हैं इसके बाद डिस्प्ले तैयार होता है OLED में क्या होते हैं सब पार्ट 1 में जुड़ जाते हैं इसके लिए काफी स्लिम हो जाता है और अच्छी से अच्छी पिक्चर आपको प्रोवाइड कर पाता है यानी कि जो एलईडी टीवी में पीछे से लाइट दी जाती उसकी जगह अलग-अलग पार्ट बनाए जाते हैं अलग-अलग पाठ को जोड़ दिया जाता है।

OLED TV जो है वह LCD  और LED  के मुकाबले काफी ज्यादा महंगी आती है और काफी ज्यादा पैसा को खर्चा करना पड़ेगा आपको अगर वह OLED लेना है और पैसा तो आपको खर्चा होगा होगा पर पिक्चर क्वालिटी को एकदम पूछो मत इतनी जबरदस्त रहेगी LCD  और LED  के मुकाबले क्या पूछो मत आपका पूरा पैसा वसूल हो जाएगा।

 

QLED क्या होता है। (Quantum dot Light Emitting Diode) BOY NOW

QLED क्या होता है। (Quantum dot Light Emitting Diode)
QLED क्या होता है। (Quantum dot Light Emitting Diode)

QLED आपको बता दूं कि आम आदमी की पहुंच से काफी दूर है क्यों इतनी ज्यादा रेट है कि आप इसके बारे में सोच भी नहीं सकते और इसमें जो वीडियो और गेम खेलेंगे या कुछ भी करेंगे इमेज देखेंगे आपको लगेगा कि हाथ से पकड़ लू। क्यू एल ई डी में क्या होता है जैसे मैं आपको मैं बताया ओ एल ई डी में अलग-अलग पिक्सेल में अलग-अलग लाइट लगी रहती है इस एम इस में भी लगी रहती है।

पर जो लाइट लगी रहती है जो पिक्सेल के अंदर अलग-अलग मल्टी कलर की लाइट लगी रहती है जो हर एक कलर में एकदम खरा साबित होती है एकदम परफेक्ट कलर वाइट करने की क्षमता होती है इसके अंदर और हरेक सिचुएशन में लड़ने की ताकत होती है इसके अंदर क्यों LED के अंदर मल्टी कलर की LED लगी रहती है।

मैं आपको जैसे बताया कि डिस्प्ले के अंदर बहुत छोटी-छोटी पिक्चर लगे रहते हैं जो आपको कैमरे से भी प्रॉपर मालूम नहीं चलेंगे कि कितने छोटे छोटे पिक्चर लगे हुए हैं अंदर छोटे छोटे पिक्सेल के अंदर एकदम बहुत बारीकी कलर की मल्टी कलर की एकदम परफेक्ट हाई लेवल की लाइट लगी रहती है एलईडी लाइटें मल्टी कलर की पिक्चर को हर एक ईमेज को हर एक वीडियो को एकदम परफेक्ट दिखने की क्षमता रखती हैं।

QLED में अगर आप कोई भी मूवी देखते हो और वही मूवीस LCD टीवी में देखते हो या LED  में देखते हो या OLED  में देखते हो तो आपको फर्क देखने को मिल जाएगा यानी कि OLED और की QLED  में ज्यादा फर्क नहीं मिलेगा पर LED और LCD के मुकाबले बहुत ज्यादा का फर्क आपको देखने को मिल जाएगा इतनी परफेक्ट कलर आपको इसमें प्रोवाइड किया जाता है इतनी परफेक्ट दिखाया जाता है कि आपको मैं अब क्या बताऊं कितनी इसकी मल्टी कलर के होते हैं वहां पर उसकी वजह से आपको अच्छे से अच्छे देखने को मिल जाते हैं इसकी कीमत कितनी ज्यादा कीमत होती है कि आम आदमी नही ले सकता।

QLED इतनी पतली थी होती है कि अगर कोई दीवाल पर लगा दे तो आपको मालूम ही नहीं देगा कि वो QLED टीवी लगा है वहां पर अगर कोई पिक्चर चल रहा है तो ऐसा लगेगा कि जैसे कोई वॉलपेपर लगाया हो या स्टीकर लगाया हो या पेपर लगाया हो इतनी पतली दिखती देती है हालांकि पेपर इतनी पतली नहीं होती है पर इतनी दूर से मालूम ही नहीं चलेगा। अगर आप नहीं जानते तो आपको मालूम चल गया होगा कि क्या होता है क्या फर्क होता है कौन सा लेना चाहिए कौन सा महंगा होता है कौन सस्ता होता है।

उम्मीद करता हूं कि आपको समझ में आ गया होगा कि LCD लेना चाहिए कि LED लेना चाहिए कि की OLED लेना चाहिए कि QLED  लेना चाहिए मैं आपको बता दूं यह सारी जितनी भी मैं आपको बताया इसमें से अगर आपका बजट 30000 तक है तो आप LED टीवी ले सकते हैं अगर आप नॉर्मल फैमिली से हैं यानी मिडल फैमिली से है तो आप एलईडी टीवी ले सकते हैं आपका बजट काम है तो OLED के पास ना जाएं और आपके पास पैसा नहीं है बिल्कुल तो आप एलसीडी टीवी नाले कुछ दिन बाद रुक के एलईटीवी ले सकते हो आपके लिए काफी अच्छा रहेगा क्योंकि एलसीडी टीवी अगर आप लेते हो तो आपको अच्छी पिक्चर देखने को नहीं मिलेगी।

अगर TV लेना है तो यहाँ क्लिक करे 12,999 , 10,999

 

 

और जानकारी के लिए यहाँ देखे HINDI

Author: virendra chauhan

This website is My Techverendra.com and I have a YouTube channel. TechVirendra can go and see if you can get a video there.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *